लक्ष्मी राय का जीवन परिचय, परिवार और फिल्मी करियर के बारे में जानिए

लक्ष्मी राय का जीवन परिचय, परिवार और फिल्मी करियर के बारे में जानिए

लक्ष्मी राय जिन्हें ज्यादातर लोग राय लक्ष्मी नाम से जानते हैं। इन्हें लोग प्यार से कृष और लकी राय भी कहते हैं। फ़िल्म जगत में इनकी एक अलग ही पहचान है। इन्होंने कई भाषाओं में फिल्मे की हैं जैसे- तमिल , मलयालम , तेलुगु , कन्नड़ और हिंदी आदि। ये एक सफल भारतीय अभिनेत्री के साथ-साथ मॉडल भी हैं।

लक्ष्मी राय का जन्म 5 मई 1989 को बेलगाम, कर्नाटक में हुआ था। इनकी राशि वर्षभ है और घर सौराष्ट्र गुजरात मे है।

लंबाई और बॉडी मेजरमेंट्स

ब्यूटीफुल अदाकारा लक्ष्मी की हाइट 178 सेंटीमीटर और मीटर में 1.78 है अगर फुट की बात करें तो इनकी हाइट 5’10” है जो एक आदर्श हाइट कही जाती है हाइट के हिसाब से इनका वेट भी बिल्कुल ठीक है इनका वजन 60 kg है। इनके फिगर की बात करें तो 34-27-34 है जो इनकी हाइट और वेट के हिसाब से बिल्कुल परफेक्ट है। इनकी आंखे गहरी भूरी हैं जो इनके फेस को एक अलग ही लुक देता है। इनके बाल काले रंग के हैं जो लुक को और बढ़ाते हैं।

परिवार

इनके परिवार की बात करें तो इनके पिता राम राय एक बिजनसमैन हैं और माँ मंजुला राय एक गृहणी हैं। लक्ष्मी की दो बहनें हैं और दोनों ही बड़ी हैं। बहनो के नाम हैं- अश्विन राय और रेशमा राय।

लक्ष्मी अभी अविवाहित हैं। इनके प्रेम संबंध की बात करें तो एस श्रीसंत एक क्रिकेटर हैं। इतना ही नही इनका नाम एम एस धोनी जो एक क्रिकेटर हैं इनके साथ भी जोड़ा गया और विक्रम सिंह के साथ भी प्रेम सम्बन्ध के मामले भी हैं। इनकी शिक्षा कहाँ से हुई इसकी कोई जानकारी नहीं है।

फिल्मी करियर

इन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत फ़िल्म करका कसादरा से की ये फ़िल्म 2005 में आई तमिल फ़िल्म है। तेलुगु में इन्होंने कंचनमाला केबल टीवी शो भी किया जो 2005 में आया था। इसके बाद वाल्मीकि जो 2005 में आई एक कन्नड़ फ़िल्म थी। रॉक एन ‘रोल मलयालम फ़िल्म है। जूली 2 ये 2017 में आई बॉलीवुड फ़िल्म थी। इन्होंने टीवी शो अनु अलावम बयामिल्लई सीजन 2 में भी काम किया ये शो 2009 में आया।

हिन्दू धर्म में जन्मी लक्ष्मी को नृत्य और यात्रा करने का शौक़ है। इनकी पसंद की बात करें तो इन्हें खाने में बिरयानी, अप्पलम के साथ रसम साधम, बीसी बेले स्नान, सौराष्ट्रियन खीमा, चावल के साथ जापानी चिकन करी आदि बहुत पसंद है। इनके पसन्दीदा अभिनेता हैं -लियोनार्डो डिकैप्रियो , आर्य , ऋतिक रोशन , शाहरुख खान , सलमान खान और पसंदीदा अभिनेत्रियाँ माधुरी दीक्षित , दीपिका पादुकोण , प्रियंका चोपड़ा , प्रियामणि हैं।

इनके पसंदीदा निर्देशक एस. शंकर, प्रियदर्शन हैं। ऑस्ट्रिया घूमना इन्हें बहुत पसंद है। ये राय एक सौराष्ट्रियन कच्छ परिवार से ताल्लुक रखती हैं और इनकी पैतृक जड़ें बेलगाम में भी हैं। ये बचपन में बहुत ही ‘कष्टप्रद’ थी क्योंकि इनके पिता ने इन्हें एक लड़के की तरह पाला।

ये हमेशा सांस्कृतिक गतिविधियों में रुचि लेती हैं। ये जब 8 साल की थीं तभी से कुछ विज्ञापनों में बाल कलाकार के रूप में काम करती थीं और जब ये 8 वीं कक्षा में थी तब बॉलीवुड अभिनेत्री पद्मिनी कोल्हापुरे को इनके स्कूल के वार्षिक समारोह में आमंत्रित किया गया था जहां इन्होंने अपने नए अभिनय स्कूल के बारे में बताया और कहा कि ये एक अभिनेत्री बनना चाहती हैं लेकिन इनके माता-पिता चाहते थे कि वो अपनी पढ़ाई पूरी करे लेकिन इन्होंने अपने माता-पिता को मना लिया और मुंबई में एक अभिनय पाठ्यक्रम को जॉइन कर लिया।

इन्होंने दो बार मिस बेलगाम का खिताब जीता एक बार 2003 मे और फिर 2004 में इतना ही नहीं ये मिस कर्नाटक का खिताब भी जीता चुकी हैं। इसके बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी।

ये मात्र 15 साल की थीं जब इन्होंने 2005 में तमिल फिल्म ‘करका कसादरा’ में अभिनय की शुरुआत की थी।

14 फिल्में करने के बाद इन्हें फिल्म धाम धूम जो 2008 में आई थी इस फ़िल्म में सफलता मिली। इस फ़िल्म में इन्होंने एक वकील की भूमिका निभाई थी।

इन्हें साउथ फिल्म इंडस्ट्री की बेहतरीन डांसर्स कहा जाता है। इन्होंने 2009 में साहसिक शो अनु अलावम बयामिल्लई के सीज़न 2 की मेजबानी भी की है।

2013 में रवि तेजा अभिनीत फिल्म बलूपा में आइटम गीत लकी लकी करने के बाद से लोग इन्हें लकी राय कहने लगे। इन्हें दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योग की ‘सेल्फी क्वीन’ कहा जाता है। 2017 में इन्होंने फिल्म जूली 2 में एक बोल्ड अभियान के साथ बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की जो इनकी 50 वीं फिल्म थी।

इनका जन्म तो लक्ष्मी राय के रूप में हुआ था लेकिन 2014 में इन्होंने अंकशास्त्र और ज्योतिषी सलाह पर अपना नाम बदलकर राय लक्ष्मी कर लिया। ये बहुत ही आध्यात्मिक हैं और हर साल धार्मिक यात्रा पर जाना पसंद करती हैं। ममूटी और मोहनलाल के साथ बॉक्स-ऑफिस की सफलता दर के कारण इन्हें मलयालम फिल्म उद्योग में भाग्यशाली शुभंकर माना जाता है।

Leave a Reply